वीर जवानों को शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया

नई दिल्ली । पूरे देश को 26 जनवरी का इंतजार है, जहां जब वे सभी गणतंत्र दिवस के मौके पर तिरंगे को सलाम ठोकेंगे। इस दौरान देश भर में तरह-तरह से कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जाएगा। वहीं, ऐसे समय में देश के उन वीर जवानों को भी सलामी देनी चाहिए, जिनकी वजह से हमारी देश की सीमाएं सुरक्षित हैं। हर बार की तरह इस बार भी गणतंत्र दिवस पर वीर जवानों को शौर्य चक्र से सम्मानित किया जा रहा है। 


  नायब सूबेदार सोमबीर को मरणोपरांत शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया है। उन्होंने J&K में आतंकियों को मार गिराया था। इसके अलावा लेफ्टिनेंट कर्नल ज्योति लामा, मेजर केबी सिंह, नायब सूबेदार एन सिंह, नायक एसकुमार और सिपाही के ओरांव को भी शौर्य चक्र से नवाजा गया है।


सिपाही करमदेव ओरांव को शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया। उन्होंने नियंत्रण रेखा पर एक ऑपरेशन के दौरान दो आतंकवादियों को मार गिराया था। बताया गया कि सिपाही पर चार आतंकवादियों हमला कर रहे थे, जहां सिपाही के बुलेटप्रूफ पटके पर गोली भी लगी फिर ने नौ ग्रेनेड फेंके, जिसमें दो आतंकवादी मारे गए थे।


लेफ्टिनेंट कर्नल ज्योति लामा ने पिछले साल जुलाई में मणिपुर में एक ऑपरेशन में दो आतंकवादियों को मार गिराया था। उनके इसके लिए शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया है। उन्हें अपने ऑपरेशन के दौरान चौदह कट्टर आतंकवादियों को पकड़ने का श्रेय भी दिया जाता है।


पैराशूट रेजिमेंट (विशेष बल) के सूबेदार नरेंद्र सिंह को नियंत्रण रेखा पर एक ऑपरेशन के लिए शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया है। उन्होंने दो आतंकवादियों को मार और एक को घायल कर दिया था। आतंकवादी वहां भारतीय सेना के ठिकानों पर हमला करने की योजना बना रहे थे।


Comments