अगर आपके बच्चे के रहन सहन बोलचाल में स्त्रियों के भाव नजर आए तो घबराये नहीं

  अगर आपके बच्चे के रहन सहन बोलचाल में स्त्रियों के भाव नजर आए तो घबराये नहीं


           *कुछ बच्चो में  ग्रंथि का ज्यादा क्रियाशील हो जाने से स्त्री का भाव आ जाता है जिसे जनखापन कहते हैं।*


*चनसुर को 10 ग्राम दूध में उबालकर मिश्री मिलाकर कुछ दिनों तक पीने से पुरुष में आए स्त्री का भाव समाप्त हो जाता है।*



*कौंच के बीजों को दूध में उबालकर छिलका हटाकर सुखाकर चूर्ण बना लें और यह चूर्ण 3-3 ग्राम सुबह-शाम गाय के ताजे दूध के साथ सेवन करें। इससे पुरुष में स्त्री का भाव पैदा होना समाप्त होता है।*


*कौंच की जड़ 10 ग्राम पीसकर सुबह-शाम मिश्री मिलाकर मक्खन के साथ लेने से पुरुषों में आया हुआ स्त्री का भाव ठीक हो जाता है।*


Comments