दिल्ली फतह के बाद अब आप की नजर यूपी पर, संभावनाएं तलाशने की मुहिम शुरू: आप नेता संजय सिंह

 लखनऊ।  दिल्ली फतह से गदगद आम आदमी पार्टी (आप) अगले सप्ताह से यूपी में अपनी संभावनाएं तलाशने की मुहिम शुरू करने जा रही है। रणनीति यह है कि दिल्ली विधानसभा के लिए ‘आप’ के चुने गए यूपी के रहने वाले 12 विधायकों के जरिये प्रदेश में जगह-जगह केजरीवाल के विकास मॉडल पर चर्चा कराई जाए। 


उन्होंने बताया कि यूपी में पार्टी को मजबूत करने की तैयारी है। इसकी रणनीति तय करने के लिए 23 फरवरी को लखनऊ के गांधी भवन में प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक होगी। मिस्ड कॉल, स्टॉल लगाकर और पार्टी की वेबसाइट के जरिए सदस्य बनाएंगे। अभी यूपी में 85 हजार सदस्य हैं। हाल ही में राष्ट्र निर्माण के लिए पार्टी से जुड़े अभियान में यूपी के 1 लाख 16 हजार लोगों ने मिस्ड कॉल दी है। यह उत्साहजनक है।

संजय ने कहा कि उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया यूपी के हापुड़ के मूल निवासी हैं। मंत्री सत्येंद्र जैन बागपत, इमरान गाजियाबाद और गोपाल राय मऊ के रहने वाले हैं। इनके अलावा खलीलाबाद बस्ती के अखिलेश त्रिपाठी, आगरा के राजेश ऋषि, गिरीश सोनी व दिनेश मोहनिया, गाजीपुर के दिलीप पांडेय, मेरठ के अमानतुल्लाह खां, मैनपुरी की प्रीति तोमर और गाजियाबाद के कुलदीप मोनू विधायक चुने गए हैं।


Comments