शाहीन बाग प्रदर्शन संयोग नहीं प्रयोग है- मोदी

नई दिल्ली:  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि सीलमपुर हो, जामिया हो या फिर शाहीन बाग, बीते कई दिनों से सिज़नशिप संशोधन बिल को लेकर प्रदर्शन हुए हैं। ये सिर्फ एक संयोग नहीं बल्कि एक प्रयोग है। उन्होंने कहा कि इसके पीछे राजनीति का एक ऐसा डिजाइन है जो राष्ट्र के सौहार्द को खंडित करने के इरादे रखता है। पीएम मोदी ने कहा कि अगर ये सिर्फ कानून का विरोध होता है तो सरकार के तमाम आश्वासन के बाद इसे खत्म हो जाना चाहिए था लेकिन आम आदमी पार्टी और कांग्रेस राजनीति का खेल खेल रहे हैं। शाहीन बाग प्रदर्शन को लेकर ये पीएम मोदी का पहला बयान है और ये दिल्ली चुनाव का मुद्दा बन गया है।


शाहीन बाग पर पीएम मोदी ने आगे कहा कि ये सभी चीजें उजागर हो गई हैं। संविधान और तिरंगे को सामने रखते हुए ज्ञान बांटा जा रहा है। असली खेती से ध्यान हटाया जा रहा है। विपक्ष तुष्टीकरण में डाल दिया गया है। प्रदर्शन के पीछे राजनीतिक खेल है। पीएम मोदी ने कहा कि कॉन्स्ट ही देश का आधार है। संविधान के आधार पर ही न्यायपालिका काम करती है और न्याय होता है। प्रदर्शनों के दौरान हिंसा और आगजनी पर कोर्ट ने नाराजगी जताई है। पीएम मोदी ने कहा, '' हमारा संविधान ही देश की न्यायपालिका और हमारी अदालतों का आधार है। संविधान की भावना के अनुरूप ही न्यायालय चलते हैं, लोगों को इंसाफ देते हैं। ''


पीएम मोदी ने कहा, '' समय-समय पर, अलग-अलग केसों में अदालतों की, हमारे देश की सर्वोच्च अदालत की भावना यही रही है कि विरोध प्रदर्शनों से सामान्य मानवी को कठिनाई न हो। '' ये लोग कोर्ट की बात को नहीं। मानते हैं और फिर कॉन्स्ट की बात करते हैं। जो न्यायपालिका को स्वीकार नहीं है कि वे दुनिया को कॉन्स सिखा रहे हैं। प्रधानमंत्री ने एक महीन से ज्यादा समय से बंद कालिंदी प्रमुख सड़क का भी जिक्र किया। पीएम मोदी ने कहा कि नोएडा से दिल्ली आने वालों को दिक्कत हो रही है। गौरतलब है कि शाहीन बाग में लगभग 50 दिन से नागरिकता कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है। इसकी वजह से दिल्ली-नोएडा को जोड़ने वाला कालिंदी प्रमुख रोड बंद है


Comments