अद्भुत...अलौलिक...अद्वितीय, शाहजी मंदिर में खुला वसंती कमरा, तस्वीरें में देखें आस्था की आभा

 वृंदावन मथुरा। वसंत पंचमी पर वृंदावन स्थित शाहजी मंदिर के वसंती कमरे को श्रद्धालुओं के लिए खोला गया। इस अद्भुत और अलौकिक कमरे में विराजमान अपने आराध्य के दर्शन पाकर भक्त धन्य हो गए। इस विशेष कमरे की अलौलिक आभा देख कर भक्तों के मुख से बरबस ये शब्द निकल पड़ा, अद्भुत...अलौलिक...अद्वितीय !


वसंती कमरे में रंग-बिरंगी रोशनी, स्वर्णमयी दीवार, दर्पण और झूमर की अलौकिक आभा के बीच बृहस्पतिवार को राधारमण लाल जू ने श्रद्धालुओं को दर्शन दिए। वैदिक मंत्रोच्चारण के मध्य ठाकुर जी का अभिषेक किया गया


वसंती कमरे में राधारमण लाल जू के जैसे ही दर्शन हुए, समूचा परिसर ठाकुर जी के जयकारों से गूंज उठा। राजशाही झाड़-फनूसों, रंग-बिरंगी रोशनी, गोलाकार छत पर की गई पच्चीकारी और विभिन्न रंगों के दर्पण भक्तों को आकर्षित कर रहे थे। 


शाहजी मंदिर के व्यवस्थापक ने बताया कि वृंदावन के शाहजी मंदिर का यह विशेष कमरा वर्ष में सिर्फ दो अवसरों पर श्रद्धालुओं के लिए खोला जाता है। प्रथम बार वसंत पंचमी पर दो दिन व दूसरी बार श्रावण मास में दो दिन ठाकुर जी इस विशेष कमरे में विराजमान होकर भक्तों को दर्शन देते हैं।


Comments