जो संगठन अमूल्या के पीछे हैं उनके खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जाएगी - बी एस येदुरप्पा
मैसुर।  मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा, जो संगठन उसके पीछे है, उसकी जांच की जाए तो चीजें सामने आएगी. यह साफ है कि पूर्व में उसका नक्सलियों से संबंध रह चुका है. इसके बाद उसे सजा मिलनी चाहिए और संगठनों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए जो उसके पीछें हैं. उन्होंने कहा कि अमूल्या के पिता ने कहा है कि उसे सजा मिलनी चाहिए और जमानत नहीं मिलनी चाहिए और वह उसका बचाव नहीं करेंगे.

इसी बीच, अमूल्या के पिता वाजी ने कहा कि उनकी बेटी के खिलाफ कानून के तहत कार्रवाई होनी चाहिए ताकि वह खुद को सुधार सके. उन्होंने कहा, यह गलती माफी के काबिल नहीं है. उसने भारतीय लोगों का काफी ठेस पहुंचाया है. मैं बेहद परेशान हूं...कानून के अनुसार उसके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए, वह करीब 19 साल की है. हमें यह पता लगाना होगा कि उसने ऐसा क्यों कहा और कौन इसके पीछे है. उन्होंने कहा, वह मेधावी लड़की है. जब मुझे पता चला कि वह सीएए-एनआरसी विरोधी गतिविधियों में शामिल हो रही हो तो मैंने उसे मना किया और कहा कि पहले वह अपनी शिक्षा पूरी करे.  पुलिस ने चिकमगलूर में कोप्पा स्थित अमूल्या के घर के बाहर सुरक्षा मुहैया कराई है क्योंकि कुछ लोगों ने वहां विरोध प्रदर्शन किया था।