तेजस की तरह देश में चलेंगी और प्राइवेट ट्रेनें

नई दिल्ली: भारत सरकार रेलवे बजट (Rail Budget 2020) में कई योजनाएं लागू करने वाली है. देश में रेलवे को मंदी से निकालने के लिए केंद्र सरकार अब PPP मॉडल पर ज्यादा फोकस करेगी. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2020 में घोषणा की है तेजस ट्रेन सेवा की तरह ही अन्य ट्रेनों में भी PPP मॉडल का इस्तेमाल होगा. नए वित्तीय वर्ष भारतीय रेल (Indian Railways) में विभिन्न योजनाएं लागू की जाएगी. केंद्र सरकार रेलवे की कमाई पर पूरी तरह से फोकस करने जा रही है.


150 नई ट्रेन PPP मॉडल के तहत शुरू होंगे
केंद्रीय वित्त मंत्रालय का कहना है कि हाल ही में PPP मॉडल के तहत तेजस ट्रेन सेवा शुरू की गई थी. केंद्र सरकार रेलवे की रफ्तार तेज करने के लिए PPP मॉडल का विस्तार करेगी. इसके तहत 150 नई ट्रेनें चलाने का प्रस्ताव. इन सेवाओं में निजी भागीदारी से पैसा जुटाया जाएगा. केंद्रीय मंत्री का कहना है कि अभी भी भारतीय रेलवे में खर्चा ज्‍यादा और कमाई कम है. इसकी वजह से सेवाओं को बेहतर ढंग से लागू किया जा पाता है. 


ये भी हैं भारतीय रेलवे के लिए सरकार के मुख्य कदम
-मानव रहित रेल फाटकों को समाप्त कर दिया है
-27,000 किमी लंबी रेल लाइन का विद्युतीकरण किया जाएगा
-मुंबई से अहमदाबाद के बीच हाई स्पीड रेल के कार्य में तेजी लाई जाएगी
-रेलवे के स्वामित्व वाली भूमि पर बड़े पैमाने पर सोलर क्षमता स्थापित करने का भी प्रस्ताव है
-550 स्‍टेशनों पर वाईफाई शुरू कर चुके हैा
-रेलवे की जमीन पर विकास कार्य किए जाएंगे
-रेलवे के साथ साथ सोलर पावर पलांट लागए जाएंगे


Comments