राष्ट्रपति ने रामनाथ गोयनका उत्कृष्ट पत्रकारिता पुरस्कार से पत्रकारों को सम्मानित किया

 नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में सोमवार को पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले पत्रकारों को रामनाथ गोयनका उत्कृष्ट पत्रकारिता पुरस्कार  से सम्मानित किया गया। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद साल 2018 में प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल मीडिया के क्षेत्र में कार्य करने वाले चुनिंदा पत्रकारों को यह पुरस्कार प्रदान किया। पुरस्कार हासिल करने वाले पत्रकारों में रिजनल कैटेगरी में अल समय (प्रिंट/डिजिटल) की अन्वेषा बैनर्जी और ब्रॉडकास्ट में मनोरमा न्यूज के सनीश टीके को मिला। कार्यक्रम में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने कहा कि ब्रेकिंग न्यूज सिंड्रोम आज मीडिया को निगल रहा है। राष्ट्रपति ने फेक न्यूज पर भी चिंता जताई। कोविंद ने कहा कि पत्रकारिता बिना किसी डर या पक्षपात के होनी चाहिए। उन्होंने रिपोर्टिंग फ्रॉम कनफ्लिक्टिंग जोन कैटेगरी में इंडियन एक्सप्रेस के दीपांकर घोष(प्रिंट/डिजिटल), ब्रॉडकास्ट में दूरदर्शन के धीरज कुमार, दूरदर्शन के ही दिवंगत पत्रकार अच्युतानंद साहू, मोरमुकट साहू पुरस्कृत किया।


पर्यावरण और विज्ञान कैटेगरी में स्क्रॉल.इन की मृदुला चारी और विनिता गोविंदराजन, जबकि ब्रॉडकास्ट में बीबीसी हिंदी सर्विस की सर्वप्रिया सांगवान को पुरस्कृत किया गया। अनकवरिंग इंडिया इनविजिबल कैटेगरी (प्रिंट/डिजिटल) में इंडियन एक्सप्रेस की हिना रोहतकी, ब्रॉडकास्ट में दक्विंट.कॉम की अस्मिता नंदी, दक्विंट.कॉम के ही मेघनाद बोस को पुरस्कृत किया गया।  बुक (नॉन-फिक्शन) कैटेगरी में राम नाथ कोविंद ने ज्ञान प्रकाश को सम्मानित किया। फोटो जर्नलिज्म कैटेगरी में टाइम्स ऑफ इंडिया को फोटो जर्नलिस्ट सुरेश कुमार को पुरस्कृत किया गया।रामनाथ गोयनका पुरस्कार उत्कृष्ट पत्रकारिता पुरस्कार उन पत्रकारों को दिया जाता है जिन्होंने खतरनाक या कठिन परिस्थितियों में सटीक समाचार देते हुए चरित्र और समर्पण की असाधारण शक्ति दिखाई है। हर श्रेणी में एक लाख रुपए की पुरस्कार राशि के साथ उसके लेखक को सम्मानित किया गया


Comments